Ramnath Kovind biography in Hindi |रामनाथ कोविंद का जीवन परिचय, परिवार, जाति

रामनाथ कोविंद, भारत के राष्ट्रपति 

रामनाथ कोविंद जी भारत के 14वे राष्ट्रपति है | 

जीवन परिचय | Ramnath Kovind biography in Hindi 

रामनाथ कोविंद जी का जन्म 1 अक्टूबर 1945 को उत्तरप्रदेश के कानपुर देहात ज़िले के तहसील डेरा के गाँव परौंख में हुआ था। इनका संबंध कोरी या कोली जाति से है। रामनाथ कोविंद जी एक वकील थे और उन्होंने दलितों के उत्थान के लिए बहुत कार्य किये।

Kori jaati ka Itihas | भारत के राष्ट्रपति और भगवन राम भी है इससे सम्बंधित

रामनाथ कोविंद जी ने 1977-1993 तक दिल्ली हाइकोर्ट में केंद्र सरकार के वकील के रूप में कार्य किया। केंद्र सरकार की ओर से इन्होंने सुप्रीम कोर्ट में भी अभ्यास किया। रामनाथ कोविंद जी 1991 में भारतीय जनता पार्टी में शामिल हुए।Ramnath Kovind biography in Hindi

इन्होंने 1994 में उत्तरप्रदेश राज्य में लगातार दो बार राज्यसभा सांसद का पद प्राप्त किया। राष्ट्रपति बनने से पूर्व रामनाथ कोविंद जी बिहार के राज्यपाल थे। इन्हें 2017 में राष्ट्रपति के रूप में चुना गया तथा ये भारत के दूसरे दलित राष्ट्रपति हैं।Ramnath Kovind biography in Hindi

रामनाथ कोविंद जी का परिवार | Family

रामनाथ कोविंद जी के पिता स्वर्गीय मॉईकू लाल स्थानीय वैद्य थे तथा परचून की दुकान चलाते थे और माता स्वर्गीय कलावती जी हैं। इनके चार भाई और तीन बहनें हैं।इनके बड़े भाई का नाम प्यारेलाल है जो कानपुर में एक कपडा व्यापारी हैं।Ramnath Kovind biography in Hindi

रामनाथ कोविंद जी के एक भाई एकाउंट ऑफिसर के पद से अवकाश प्राप्त कर चुके हैं। इनके एक भाई सरकारी स्कूल मे अध्यापक हैं।इनकी पत्नी का नाम सविता कोविंद है जो सरकार सेवा से अवकाश प्राप्त कर चुकी हैं।

इनके पुत्र का नाम प्रशांत कुमार जो नौकरी से अवकाश प्राप्त हैं तथा पुत्री स्वाती एयर इंडिया में कार्यरत है। इनकी बहू दिल्ली मे शिक्षिका हैं।Ramnath Kovind biography in Hindi

रामनाथ कोविंद जी की शिक्षा | Education

रामनाथ कोविंद जी ने कानपुर विश्वविद्यालय से बी.कॉम. और एल. एल. बी. की डिग्री प्राप्त की।

रामनाथ कोविंद जी स्नातक की डिग्री प्राप्त करने के बाद इन्होंने सिविल सर्विसेज की तैयारी की तथा तीसरी बार मे परीक्षा में सफल हुये किन्तु इन्हें नौकरी करना पसंद नही आया और ये लॉ का अभ्यास करने लगे।

राजनीतिक पद | Political post

राज्यसभा सांसद के पद पर रहते हुए रामनाथ कोविंद जी ने अनेक पदों जैसे अनुसूचित जाति और जनजाति पार्लियामेंट्री कमेटी, होम अफेयर्स पार्लियामेंट्री कमेटी, पेट्रोलियम और नेचुरल गैस पार्लियामेंट्री कमेटी, सोशल जस्टिस और एम्पावरमेंट पार्लियामेंट्री कमेटी, लॉ और जस्टिस पार्लियामेंट्री कमेटी, और राज्यसभा चेयरमैन के पद को सुशोभित किया।

उपरोक्त पदों के अतिरिक्त रामनाथ कोविंद जी ने कई अन्य पदों पर भी कार्य किया।

रामनाथ कोविंद जी ने डॉ भीमराव अंबेडकर यूनिवर्सिटी में मैनेजमेंट बोर्ड के सदस्य के रूप में कार्य किया। इन्होंने कोलकाता के इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ़ मैनेजमेंट के मेंबर ऑफ बोर्ड के पद पर भी जारी किया। इन्होंने अक्टूबर 2002 में यूनाइटेड नेशंस जनरल असेम्बली में भारत का प्रतिनिधित्व किया।

सामाजिक कार्य | Social works

इन्होंने सामाजिक रूप से पिछ्ड़े वर्ग के लोगों के लिये कुछ महत्वपूर्ण कार्य किये जो निम्नलिखित हैं

  • रामनाथ कोविंद जी ने अपने राज्यसभा के सांसद कार्यकाल के दौरान इन्होंने पिछड़े वर्ग के लोगों में शिक्षा का प्रसार किया।
  • रामनाथ कोविंद जी ने अनुसूचित जातिजनजाति एवं महिलाओं को मुफ़्त में क़ानूनी सुविधा उपलब्ध करायी एवं दिल्ली में फ्री लीगल ऐड सोसाइटी संस्था स्थापित की।
  • रामनाथ कोविंद जी ने अपनी सांसद निधि से अपने पैतृक घर को मिलान केंद्र बना दिया ।

भारत के 13 सभी उपराष्ट्रपतियो के बारे में विस्तार से जाने

राष्ट्रपति का वेतन | President of India Sallery
  • राष्ट्रपति का वेतन 5लाख रुपये प्रति माह होती है तथा इस पर टैक्स नही लगता।
  • वेतन के अलावा इन्हें अन्य सुविधाएं जैसे मुफ्त चिकित्सा, आवास आदि प्राप्त होती हैं।
  • सेक्रेटेरियल अस्सिस्टेंट के रुप मे राष्ट्रपति की जीवनसाथी को 30000 रूपये प्रति माह दिया जाता है।
कार्यकाल समाप्त होने के बाद मिलने वाली सुविधाएं
  • राष्ट्रपति को 1.5 लाख प्रति माह पेंशन प्राप्त होती है।
  • उनके जीवनसाथी को 30000 रुपए प्रति माह सेक्रेटेरियल अस्सिस्टेंट के तौर पर मिलता है।
  • उन्हें एक रेंट फ्री फर्निश्ड बंगला प्रदान किया जाता है।
  • उन्हें दो फ्री लैंडलाईन फोन और एक मोबाइल फोन प्रदान किया जाता है।
  • उन्हें स्टाफ खर्च के लिए प्रत्येक माह 60000 रुपए की राशि दी जाती है।
  • राष्ट्रपति को फ्री रेल और विमान सुविधा मिलती है तथा वह अपने साथ एक व्यक्ति को ले जा सकता है।Ramnath Kovind biography in Hindi Ramnath Kovind biography in Hindi

Leave a Comment