Mobile operating system in Hindi | मोबाइल ऑपरेटिंग सिस्टम क्या है, प्रकार, काम

Mobile operating system

आज के समय में हर किसी के पास मोबाइल फोन है या फिर आप मोबाइल फोन लेने की सोचते है। तो की आप को पता है की आपका फोन या कोई भी मोबाइल फोन कैसे चलता है। जी हां मोबाइल फोन को चलने के लिए एक ऑपरेटिंग सिस्टम की जरुरत पड़ती है जैसे लैपटॉप या कंप्यूटर में विंडोज़ ऑपरेटिंग सिस्टम होता है।Mobile operating system

ठीक उसी प्रकार से मोबाइल में भी एक ऑपरेटिंग सिस्टम के तहत काम करता है। जैसे एंड्राइड का नाम तो आप सब ने सुना ही होगा। यह  ज्यादा बिकने और स्तेमाल किया जाने वाला मोबाइल ओपेरटिंग सिस्टम है। अगर किसी भी  मोबाइल में ऑपरेटिंग सिस्टम का स्तेमाल न किया जाये तो मोबाइल फोन एक खली डिब्बे के सामान होगा।Mobile operating system

परन्तु अगर उसी मोबाइल फोन में एक अच्छा सा ऑपरेटिंग सिस्टम डाल दिया जाये तो वह काम करने लगता है जिसमे हम सॉफ्टवेयर के द्वारा  विभिन्न प्रकार के  टास्क को करते है। Mobile operating system

Mobile operating system क्या है 

कोई भी इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस जिसे हम खुद से कण्ट्रोल या फिर ऑपरेट करते है। उसे चलने के लिए उसमे एक सॉफ्टवेयर डालते है जिसे हम ऑपरेटिंग सिस्टम कहते है। जिसे एप्पल मोबाइल  फोन में आई ओ एस (IOS ) ऑपरेटिंग सिस्टम होता है।

विंडोज के मोबाइल फोन में माइक्रोसॉफ्ट का  विंडोस ओपेरटिंग सिस्टम होता है , बिलकुल ऐसे ही एंड्राइड आधारित मोबाइल फोन में एंड्राइड ऑपरेटिंग सिस्टम होता है।Mobile operating system

अगर मोबाइल फोन में ऑपरेटिंग सिस्टम न डाला जाये तो उसका स्तेमाल हम नहीं कर पाएंगे क्युकी किसी भी मोबाइल को सुचारु रूप से काम करने के लिए ऑपरेटिंग  आवश्यकता होती है। हम किसी भी मोबाइल के अंदर पहले से इंसटाल ऑपरेटिंग सिस्टम के ऊपर कोई  ऑपरेटिंग सिस्टम नहीं इनस्टॉल कर सकते।

परन्तु किसी भी रूट (ROOT)मोबाइल डिवाइस के अंदर बहुत ही आसानी के साथ अपन मन पसंदीदा ऑपरेटिंग सिस्टम इनस्टॉल कर सकते है। लेकिन ऐसा करने में आपके मोबाइल फोन को काफी जोखिम उठाना पद सकता है ये भी हो सकता है की आपका मोबाइल फोन पूरी तरह से ख़राब हो जाये।Mobile operating system

अतः हम किसी भी रुट मोबाइल में अपनी तरफ से नया ऑपरेटिंग सिस्टम इनस्टॉल करने का सुझाव नहीं देते है।  

मोबाइल ऑपरेटिंग सिस्टम तथा डेस्कटॉप ऑपरेटिंग सिस्टम में अंतर 

कोई भी मोबाइल ऑपरेटिंग सिस्टम केवल और केवल मोबाइल फोन के लिए ही डिज़ाइन किया जाता है। उसी प्रकार किसी भी  डेस्कटॉप के ऑपरेटिंग सिस्टम को केवल डेस्कटॉप लैपटॉप या कुछ टेबलेट में ही स्तेमाल किया जा सकता है। 

इसके बावजूद मोबाइल फोन का ऑपरेटिंग सिस्टम और डेस्कटॉप का ऑपरेटिंग सिस्टम लगभग एक जैसे ही कार्य करते है। आपके पास जो भी मोबाइल है उसका  ऑपरेटिंग सिस्टम तथा डेस्कटॉप एक जैसा ही कार्य करते है उसके फीचर्स भी लगभग एक जैसे होते है

परंतु डेस्कटॉप ऑपरेटिंग सिस्टम में मोबाइल ऑपरेटिंग सिस्टम की अपेक्षा ज्यादा क्षमता देखने को मिलती है वही मोबाइल ऑपरेटिंग सिस्टम में कुछ विशेषताएं होती है जो डेस्कटॉप ऑपरेटिंग सिस्टम नहीं होती है। Mobile operating system

Mobile Operating System Feature | मोबाइल ऑपरेटिंग सिस्टम की  विशेषताएं   

आज हम आपको मोबाइल ऑपरेटिंग सिस्टम के बारे में उन विशेस्ताओ के बारे में बतायेगे जो आपको किसी भी डेस्कटॉप या लैपटॉप ऑपरेटिंग सिस्टम में नहीं मिलेगा और यही अन्तर हमें मोबाइल ऑपेरैंग सिस्टम और डेस्कटॉप ऑपरेटिंग सिस्टम में देखने को मिलती है। निचे लिस्ट दी गई है। 

SIM Management
Touch Screen
Bluetooth
Cellular
Wi-Fi
GPS
NFC
High-quality Camera
Voice Recorder
Infrared Blaster
Speech Recognition
Face Recognition
Fingerprint Sensor

मोबाइल ऑपरेटिंग सिस्टम के प्रकार | Types of Mobile Operating system

जैसा की आप जानते होगे कि मोबाइल ऑपरेटिंग सिस्टम कई प्रकार के होते है। जिनमे कुछ अलग अलग फीचर होते है। लेकिन इन सभी ऑपरेटिंग सिस्टम में एंड्राइड ऑपरेटिंग सिस्टम सबसे ज्यादा पॉपुलर तथा सबसे ज्यादा स्तेमाल करने वाला ऑपरेटिंग सिस्टम है।  तो आईये आज हम आपको सभी प्रकार के मोबाइल ऑपरेटिंग सिस्टम के बारे में जानकारी देगे। Mobile operating system

Android Operating System

आज के समय के ज्यादा तर मोबाइल फोन में एंड्राइड ऑपरेटिंग सिस्टम होता है। एंड्राइड ऑपरेटिंग सिस्टम को गूगल ने 2008 में लांच किया था।  आज के समय में एंड्राइड ऑपरेटिंग  पसंद  किया जाने वाला ऑपरेटिंग सिस्टम है क्युकी एंड्राइड ऑपरेटिंग सिस्टम के लिए लगभग सभी एप्प्स  बाहुत ही आसानी से मिल जाता है। Mobile operating system

IOS Operating System 

IOS एक ऐसा मोबाइल ऑपरेटिंग सिस्टम है जिसे एप्पल कम्पनी ने खुद बनाया है।  यह एप्पल के लगभग सभी प्रोडक्ट्स जैसे एप्पल के मोबाइल फोन , लैपटॉप तथा टेबलेट, आईपैड में प्रयोग होता है।  IOS  ऑपरेटिंग सिस्टम में डाटा को सबसे ज्यादा सुरक्षित मन जाता है।  यही वजह है जो बड़े बड़े बिसिनेस मैंन लोग एप्पल के प्रोडक्ट को ही स्तेमाल करते है। 

Windows ऑपरेटिंग सिस्टम 

 मुख्यरूप से विंडोज ऑपरेटिंग सिस्टम डेस्कटॉप ऑपरेटिंग सिस्टम है परन्तु माइक्रोसॉफ्ट कम्पनी द्वारा बनाये गए मोबाइल  फोन में यह ऑपरेटिंग सिस्टम देखने को मिल जाता है। माइक्रोसॉफ्ट कम्पनी  मालिक बिल गेट्स है। 

Chrome OS 

chrome OS को गूगल ने  बनाया है लेकिन यह केवल वेब एप्लीकेशन के रूप में ही कार्य करता है। Chrome OS मुख्यरूप से chrome ब्राउज़र को यूज़र इंटरफ़ेस प्रदान करने का कार्य करता है। जिसे आप  गूगल के क्रोमबुक में देख सकते है। 

Web OS 

web os  एक ऐसा ऑपरेटिंग सिस्टम है जिसका उपयोग आजकल स्मार्ट टेलीविज़न में किया जाता है। वेब ऑपरेटिंग सिस्टम को पाल्म  कंपनी ने विक्सित किया था जिसे बाद में HP कम्पनी ने खरीद लिया।  इसके बाद वेब ऑपरेटिंग सिस्टम को LG कम्पनी ने खरीद लिया , जिसका उपयोग यह अपने स्मार्ट टेलीविज़न में करती है।

Watch OS  

Watch ऑपरेटिंग सिस्टम को एप्पल कम्पनी ने बनाया है एप्पल कम्पनी watch  ऑपरेटिंग सिस्टम का उपयोग अपने द्वारा बनाये गए स्मार्ट वाच के करता है। 

BlackBerry OS

 

ब्लैकबेरी ऑपरेटिंग सिस्टम  उपयोग केवल और केवल ब्लैकबेरी द्वारा बनाये गए मोबाइल फोन में होता है। इस ऑपरेटिंग सिस्टम को रिसर्च इन मोशन नमक कम्पनी द्वारा डिस्ट्रीब्यूट किया जाता है। Mobile operating system

ALI OS 

Ali ऑपरेटिंग सिस्टम का उपयोग केवल और केवल चीन की कम्पनी अलीबाबा करता है।  ali ऑपरेटिंग सिस्टम को अलीबाबा कम्पनी ने ही बनाया है। 

Kai OS 

Kai  ऑपरेटिंग सिस्टम एक प्रकार का मोबाइल ऑपरेटिंग सिस्टम है जिसे kai कम्पनी ने विकसित किया है। kai ऑपरेटिंग सिस्टम को स्मर्टफ़ोन के जन्मदाता सेलकॉन के लिए विकसित किया गया था। 

आज हमने आपको मोबाइल फोन डिवाइस में प्रयोग होने वाले ऑपरेटिंग सिस्टम के बारे में बताया  तथा ये भी बताया की ये कैसे और कहा प्रयोग होते है।Mobile operating system

और पढ़े —

ऑनलाइन कमाने के लिए ये है बेहतरीन एप्प्स 

 क्या आप राहुल गाँधी की पत्नी के बारे में जानते है 

Leave a Comment