10 Important Adrak ke fayde |अदरक के फायदे और नुकसान | अदरक के उपयोग

 

Contents

Adrak kya hai?

“अदरक का रस रोग निवारक प्रतिरोधकता उद्धारक दृष्टि एवं  जठर दशा सुधारक” Adrak ke fayde

  जैसा कि एक भारतवासी होने के नाते हम बचपन से ही अदरक के बारे में काफी सुनते आ रहे हैं जैसे कि अगर हमें कभी खांसी  हो जाती है तो हमें अदरक का काढ़ा पिलाया जाता है। रसोई में तो अदरक का एक महत्वपूर्ण किरदार है किसी भी चटपटी सब्जी से पहले अदरक लहसुन का पेस्ट हर किसी के मन को भाता है । कभी पीसकर कभी घिस के तो कभी सूखा के हर रूप में यह एक प्रकृति का अद्भुत उपहार है । Adrak ke fayde

इसे अंग्रेजी भाषा में Ginger कहा जाता है यह एक भूमि-गत तना होता है। इसे सुखाकर सोंठ के रूप में भी उपयोग में लाया जाता है। सोंठ का उपयोग अदरक के अभाव में किया जाता है, वैसे तो स्वास्थ्य की दृष्टि से दोनों ही लाभदायक होते हैं, लेकिन सुखाने पर अदरक में मौजूद कई तैलीय तत्व नष्ट हो जाते हैं। Adrak ke fayde

Adrak ki kheti Kaise karte hai

यह अधिकतर उष्णकटिबंधीय और शीतोष्ण कटिबंधीय भाग में पाया जाता है, अदरक दक्षिण एशिया का देशज है किंतु अब यह पूर्वी अफ्रीका और कैरेबियन में भी पाया जाता है। Adrak ke fayde

अदरक की खेती पूरे साल की जा सकती है, हालांकि उन्हें रोपण करने का सबसे अच्छा समय सर्दियों के अंत और शुरुआती वसंत में है। Adrak ke fayde

वैज्ञानिक डाटा-Scientific Data

Scientific name: ————–Zingiber officinale

Kingdom: ———————–Plantae

Family:————————– Zingiberaceae

Sanskrit name: ————— Srngaveram

Parts used:——————— Rhizome or Root stem (राइज़ोम या जड़)

अदरक में पाए जाने वाले पौष्टिक तत्व

पोषक तत्व——————–मात्रा  (प्रत्येक 100 ग्राम में)

पानी ————————–78g

एनर्जी————————–80kcal

प्रोटीन————————1.82g

फैट —————————0.75g

कार्बोहाइड्रेट——————-17.77g

फाइबर ————————-2g

शुगर—————————-1.7g

मिनरल —————– मात्रा

कैल्शियम———————–16mg

आयरन ————————0.6mg

मैग्नीशियम———————43mg

फास्फोरस———————-34mg

पोटैशियम ———————415mg

सोडियम————————13mg

जिंक ————————–0.34mg

कॉपर—————————0.226mg

मैगनीज़ ———————–0.229mg

विटामिन —————–मात्रा

विटामिन सी———————-5mg

थियामिन ————————0.025mg

राइबोफ्लेविन———————0.034mg

नियासिन ————————0.75mg

विटामिन बी-6——————–0.16mg

फोलेट (डीएफई)——————11µg

विटामिन ई———————- 0.26mg

विटामिन के———————-0.1µg

फैटी एसिड————————मात्रा

फैटी एसिड (सैचुरेटेड) ———————-0.203g

फैटी एसिड (मोनोअनसैचुरेटेड)—————0.154g

फैटी एसिड (पॉलीसैचुरेटेड)——————-0.154g

Adrak ke fayde

अदरक के निम्नलिखित फायदे होते है-

 

रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में

अदरक में एंटीबैक्टीरियल और एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं जिस वजह से यहां रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में मददगार साबित होता है। Adrak ke fayde Adrak ke fayde Adrak ke fayde Adrak ke fayde

Use of Adrak in Cancer | कैंसर से रोकथाम में अदरक

जैसा कि हमें ज्ञात है की कैंसर एक खतरनाक बीमारी है अदरक कैंसर पीड़ितों के लिए बहुत उपयोगी होती है अदरक की सहायता से कैंसर की कोशिकाएं नष्ट हो जाती है जिसकी सहायता से कैंसर से बचा जा सकता है। शोध में माना गया कि अदरक में एंटी इन्फ्लामेट्री (सूजन कम करने वाला) और एंटी-कैंसर (कैंसर के प्रभाव को कम करने वाला) गुण मौजूद होता है। इस गुण के कारण अदरक स्तन कैंसर, गर्भाशय के कैंसर और लिवर कैंसर से बचाव में सकारात्मक प्रभाव प्रदर्शित कर सकता है। Adrak ke fayde

Use of Adrak in Heart | हृदय के लिए

इनमें सूजन, मुक्त कणों का प्रभाव, खून जमने की प्रक्रिया, बढ़ा हुआ ब्लड प्रेशर और लिपिड को नियंत्रित करने की क्षमता शामिल है। Adrak ke fayde

अदरक कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करता है तथा रक्तचाप को नियंत्रण में रखता है हृदय से जुड़े विभिन्न रोगों के खतरे को कम करता है इसमें पोटैशियम अत्यधिक मात्रा में उपस्थित होता है जिससे हृदय को स्वस्थ रखने में मदद मिलती है।

खासी एवं मांस पेशीय सूजन को कम करने में
अदरक में प्राकृतिक रूप से एनाल्जेसिक दर्द निवारक होता है, जो गले के दर्द को दूर करने में मदद करता हैं जिससे खांसी आनी बंद हो जाती है।अदरक के औषधीय गुण मांसपेशियों में खिंचाव, तनाव व सूजन के कारण होने वाले दर्द को कम करने में मदद कर सकते हैं।

 

ठंडी व लू से बचाव में

अदरक ठंड में अत्यंत लाभकारी होता है ठंड लगने पर अदरक के उपयोग से बचाव किया जा सकता है इसमें एंटीवायरल व एंटीफंगल उपस्थित होता है जिससे ठंड व लू से बचाव किया जा सकता है। Adrak ke fayde

Use of Adrak in arthritis | गठिया के दर्द में

आज कल गठिया की बीमारी सामान्य हो गई है जिन व्यक्ति को गठिया की समस्या होती है उन्हें अदरक का सेवन नियमित रूप से करना चाहिए इसमें पर्याप्त मात्रा में कैल्शियम उपस्थित होता है जिससे हड्डियों को मजबूती मिलती है तथा गठिया में लाभप्रद साबित होती है। Adrak ke fayde

Use of Adrak for stomuch | पेट की समस्या में

अदरक पेट की समस्या के निवारण में सहायक है तथा यह जठरांत्र की मांसपेशियों को आराम प्रदान करती है जिससे पेट की गैस और सूजन में लाभप्रद साबित होती है।शोध में माना गया कि अदरक कब्ज, पेट दर्द, पेट की ऐंठन, मरोड़ व गैस जैसी कई समस्याओं से राहत दिलाने में सहायक साबित हो सकता है। Adrak ke fayde

Use of Adrak in diabetes | मधुमेह को नियंत्रित करने में

अदरक हमारे शरीर के शर्करा स्तर को कम करता है अदरक का हाइपोग्लिसेमिक प्रभाव न सिर्फ डायबिटीज को कम कर सकता है, बल्कि डायबिटीज के कारण होने वाली अन्य जटिलताओं से भी बचाव कर सकता है तथा शरीर में इंसुलिन बनाने में मदद प्रदान करता है जिससे मधुमेह को नियंत्रित किया जा सकता है। Adrak ke fayde

Use of Adrak in migraine | माइग्रेन की समस्या में

माइग्रेन में सिर दर्द को कम करने के लिए वैज्ञानिकों ने अदरक की चाय को बहुत अधिक फायदेमंद बताया है इसमें विटामिन और पोषक तत्व उपस्थित होते हैं जिससे माइग्रेन में आराम मिलता है।

Use of Adrak in weight loss | वजन घटाने में मददगार

आजकल हर कोई अपना वजन घटाना जाता है और एक स्लिम बॉडी की कामना करता है तो उन सभी के लिए अदरक में कुछ ऐसे तत्व पाए जाते हैं जो वसा को गलाने में सहायक होते हैं जिनकी वजह से शरीर के विभिन्न हिस्सों में जमी चर्बी गल जाती है अतः यह वजन घटाने में मददगार सिद्ध होता है।

Benefits of ginger in hair | बालों के लिए फायदेमंद

अदरक में कुछ एंटीफंगल गुण होते हैं जिससे यह बालों की त्वचा को सेहतमंद रखता है ।अतः बाल झड़ने या रूसी की समस्याओं का समाधान होता है। Adrak ke fayde

*अदरक ऐसी चीज है जिसमें सैंकड़ों गुण पाए जाते हैं। यह कई बीमारियों को न सिर्फ ठीक करती है, बल्कि कई बीमारियों को होने से भी रोकती है। यह इम्यूनिटी को भी बढ़ती है जिससे यह कोरोना काल में लाभप्रद है इसलिए आयुष मंत्रालय काढ़े में भी इसे प्रधानता दी गई हैं।

Side effect of adrak | अदरक के नुकसान

1: कुछ लोगों को अदरक का सेवन करने से एलर्जी तथा होंठ और जीभ में सूजन व शरीर में खुजली उत्पन्न होती है। उन व्यक्तियों को अदरक का सेवन करना बंद कर देना चाहिए तथा डॉक्टर की मदद लेनी चाहिए।

2: जिन भी व्यक्तियों का उच्च रक्तचाप हो उनको विशेषज्ञों की देखरेख में अदरक का सेवन करना चाहिए अन्यथा इसके दुष्परिणाम हो सकते हैं।

3: प्रायः हम यह भली भांति जानते हैं कि किसी भी चीज का इस्तेमाल आवश्यकता से अधिक करने पर उसके दुष्परिणाम देखने को मिल सकते हैं अदरक की चाय का सेवन करना लाभप्रद साबित होता है परंतु अदरक की चाय का सेवन 5 कप से अधिक करने पर सिर दर्द माइग्रेन अनिद्रा जैसी समस्याओं को बढ़ावा देती है इस कारण हमें पर्याप्त मात्रा में ही चाय का सेवन करना चाहिए। Adrak ke fayde

4: अदरक का अधिक मात्रा में सेवन करने से पेट संबंधित रोग, पेट दर्द तथा दस्त जैसी समस्याएं हो सकती हैं।

5: गर्भवती महिलाओं के उल्टी या जी मचलाने की समस्या से निजात दिलाता है परंतु एक शोध के अनुसार यह ज्ञात हुआ की अदरक का अधिक सेवन करने पर गर्भपात का खतरा बन सकता है इसलिए किसी विशेषज्ञ की सलाह अवश्य लें।

6:  शोध के अनुसार अदरक खून को पतला करने का भी काम कर सकता है। इस कारण अदरक का ज्यादा सेवन करने से आपको पीरियड्स साइकल में परेशानी हो सकती है।

7: कुछ लोग सोचते हैं की रात में सोने से पहले अदरक की चाय पीना लाभप्रद होता है परंतु रात को अदरक की चाय पीने से हमें बचना चाहिए विशेषज्ञ कहते हैं की रात में अदरक वाली चाय पीने से आपकी नींद उड़ सकती है प्रत्येक व्यक्ति को अपनी निंद्रा पूर्ण रूप से करनी चाहिए यह हमारे स्वास्थ्य के लिए अत्यंत आवश्यक है।

8: चाय में आवश्यकता से अधिक अदरक डालने पर सीने में जलन तथा पेट में जलन हो सकती है हमें इस से परहेज करना चाहिए तथा एक निश्चित मात्रा में ही इसका सेवन करना चाहिए।

9: अदरक त्वचा के लिए लाभकारी है लेकिन कुछ लोगों को इससे एलर्जी भी हो सकती है अतः इसका प्रयोग त्वचा संबंधी समस्याओं को दूर करने में सोच समझ कर करना चाहिए।

कितनी मात्रा में अदरक लेना फायदेमंद होता है?

1: एक कप चाय में एक चौथाई चम्मच अदरक से अधिक नहीं डालना चाहिए (इसे कद्दूकस करके चम्मच से नापा जा सकता है)

2: हाजमा खराब हो जाने पर 1.2 ग्राम से ज्यादा अदरक का सेवन नहीं करना चाहिए।

3: वजन घटाने के लिए रोजाना 1 ग्राम से अधिक अदरक नहीं लेना चाहिए।

4: गर्भवती महिलाओं को एक दिन में 2.5 ग्राम से अधिक अदरक का सेवन बिल्कुल भी नहीं करना चाहिए।

 

अखरोट के ये फायदे जानकार चौक जायेगे आप  क्या

क्या आप खुबानी के इन फायदों को जानते है 

 

Leave a Comment